चित्रकला के इतिहास में स्पेन के कुछ मुख्य कलाकार

लखनऊ

 10-11-2019 03:09 AM
द्रिश्य 3 कला व सौन्दर्य

1.पाब्लो पिकासो (Pablo Picasso) - पाब्लो रुइज़ पिकासो एक स्पेनिश चित्रकार, मूर्तिकार, प्रिंटमेकर, सिरेमिक, स्टेज डिजाइनर, कवि और नाटककार थे, जिन्होंने अपने जीवन का अधिकांश वयस्क जीवन फ्रांस में बिताया था। इन्हें 20 वीं शताब्दी के सबसे प्रभावशाली कलाकारों में से एक के रूप में माना जाता है। पिकासो को घनवादी आंदोलन के सह-संस्थापक के रूप में भी जाना जाता है।

(a). बुड्ढा गिटारवादक (The Old Guitarist) – द ओल्ड गिटारिस्ट 1903 के अंत और 1904 की शुरुआत में पाब्लो पिकासो द्वारा बनाई गई एक तेल रंग चित्र है। इसमें एक बुजुर्ग संगीतकार को दिखाया गया है, जो एक अंधा आदमी है। जिसका शरीर बहुत कमज़ोर है और फटे पुराने कपड़े पहने हुए हैं। स्पेन के बार्सिलोना की गलियों में अपने गिटार के ऊपर निराश पड़ा है।

(b). एक मैन्डोलिन के साथ लड़की (The Girl with a Mandolin) - पेरिस में 1910 में पाब्लो पिकासो द्वारा क्यूबिस्ट आंदोलन के भीतर 'गर्ल विद ए मांडोलिन' चित्रित किया गया था। कलाकृति पिकासो के शुरुआती विश्लेषणात्मक घनवादी कृतियों में से एक थी।

(c). पियरोट (Pierrot) – पियरोट समरूपों की शास्त्रीय शुरुआत की अवधि में बनाया गया था। पिकासो के लिए अभिनय का खेल घन छवियों के चित्र में एक महत्वपूर्ण पक्ष बना।

(d). ओल्गा एक बहाँदार कुर्सी पर (olga in an armchair) - पिकासो की स्पैनिश जड़ों में वापसी बैले रसेस बैलेरिना के इस शानदार आलंकारिक चित्र के साथ महत्वपूर्ण सिद्ध होती है। पिकासो ने इसमें ओल्गा कोकलोवा को दर्शाया है जो बाद में उनकी पहली पत्नी बनी।

2.फ्रांसिस्को गोया (Francisco Goya) - फ्रांसिस्को गोया एक स्पेनिश रोमांटिक चित्रकार और प्रिंटमेकर थे। उन्हें 18 वीं शताब्दी के अंत और 19 वीं शताब्दी की शुरुआत का सबसे महत्वपूर्ण स्पेनिश कलाकार माना जाता है और अपने लंबे कार्यकाल के दौरान वे अपने युग के एक महान टिप्पणीकार और चिरपरिचित लेखक थे।

(a). छत्र (The Parasol) - अपने चित्रों में गोया अक्सर फ्रांसीसी फैशन से स्पैनिश फैशन में शामिल हो जाते थे। इस विशेष पेंटिंग में एक विशेष महिला जमीन पर बैठी हुई है, जो संभवतः एक लंबी सैर से लौट कर आराम कर रही है।

(b). 2 मई 1808 (The Second OF May, 1808) - 2 मई 1808 को द चार्ज ऑफ़ द मामेलुकेस (The Charge of the Mamelukes) के रूप में भी जाना जाता है, जो स्पेनिश चित्रकार फ्रांसिस्को गोया की एक पेंटिंग है। इसमें स्पेन के फ्रांसीसी कब्जे के खिलाफ कई लोगों के विद्रोह को दर्शाया गया है जिसने प्रायद्वीपीय युद्ध को जन्म दिया।

(c). सब्त के दिन चुड़ैलें (Witches' Sabbath/The Great He-Goat) - सब्त के दिन चुड़ैलें या द ग्रेट ही गोट स्पेनिश कलाकार फ्रांसिस्को गोया द्वारा एक तेल भित्ति को दिया गया नाम हैं, जो 1821 और 1823 के बीच के समय में पूरा हुआ। यह भित्तिचित्र हिंसा, धमकी, उम्र बढ़ने और मृत्यु जैसे विषयों की पड़ताल करता है।

3.एल ग्रेको (El Greco) - एल ग्रेको एक ग्रीक चित्रकार, मूर्तिकार और स्पेनिश पुनर्जागरण काल के वास्तुकार थे। एल ग्रेको की नाटकीय और अभिव्यक्तिवादी शैली उनके समकालीनों के लिए एक पहेली की तरह थी, लेकिन 20 वीं शताब्दी में सराहना मिली।

(a). मैगी की आराधना (The Adoration of Magi) – ग्रेको ने मैगी की आराधना विषय पर आधारित इस चित्र को इटली में रहने के दौरान, इसे वेनिस या अन्य जगहों पर चित्रित किया हो सकता है या चित्रकार के देशी क्रीट (Native Crete) में रहने वाले एक इतालवी ग्राहक के लिए बनाया गया हो सकता है।

(b)ओर्गाज़ का समाधी में सम्मिलन (The Burial of the Count of Orgaz) - व्यापक रूप से ग्रेको के बेहतरीन कामों के बीच, यह अपने समय की एक लोकप्रिय स्थानीय किंवदंती को दर्शाता है।

चित्र सन्दर्भ
1.
https://en.wikipedia.org/wiki/Pablo_Picasso
2. https://en.wikipedia.org/wiki/Francisco_Goya
3. https://en.wikipedia.org/wiki/El_Greco



RECENT POST

  • अध्यात्मिक भारतीय संगीत के प्रभाव का नतीजा है, राग रॉक (Raga Rock)
    ध्वनि 1- स्पन्दन से ध्वनि

     15-12-2019 12:09 PM


  • कैसे हो बाराबंकी और निकटवर्ती गाँवों की बाढ़ समस्याओं का निवारण?
    नदियाँ

     14-12-2019 09:36 AM


  • कब खरीदी जाए अपनी पहली गाड़ी?
    य़ातायात और व्यायाम व व्यायामशाला

     13-12-2019 11:30 AM


  • भारतीय विचारधारा और हिंदू धर्म में भाग्यवाद की भूमिका
    विचार 2 दर्शनशास्त्र, गणित व दवा

     12-12-2019 10:15 AM


  • क्यों देखा जाता है भ्रष्टाचार एक आवश्यक बुराई के रूप में
    नगरीकरण- शहर व शक्ति

     11-12-2019 11:19 AM


  • कुछ न कहते हुए भी बहुत कुछ कहना ही है मुखाभिनय
    द्रिश्य 2- अभिनय कला

     10-12-2019 12:42 PM


  • महँगे होने के बावजूद भी क्यों है कश्मीरी कपड़ों की इतनी मांग?
    स्पर्शः रचना व कपड़े

     09-12-2019 12:51 PM


  • अभिनय के साथ सन्देश प्रस्तुति की कला है, नुक्कड़ नाटक
    द्रिश्य 2- अभिनय कला

     08-12-2019 12:20 PM


  • क्या है, शहरीकरण के उत्क्रम (Reverse Urbanization) से आशय?
    जलवायु व ऋतु

     07-12-2019 11:26 AM


  • मिट्टी को स्वस्थ बनाने के लिए त्यागना होगा कीटनाशकों और नई तकनीकों को
    भूमि प्रकार (खेतिहर व बंजर)

     06-12-2019 11:55 AM






  • © - 2017 All content on this website, such as text, graphics, logos, button icons, software, images and its selection, arrangement, presentation & overall design, is the property of Indoeuropeans India Pvt. Ltd. and protected by international copyright laws.