कपडों के साथ-साथ भोजन के लिए भी उपयोग किये जाते हैं सिल्क वॉर्म

लखनऊ

 25-10-2020 06:02 AM
स्वाद- खाद्य का इतिहास
नई रेशम की साडियों को हर कोई पसंद करता है, किंतु इसके लिए रेशमी कीडों या सिल्क वॉर्म (Silkworm) को धन्यवाद देना चाहिए। सिल्क वॉर्म आपको केवल रेशम ही नहीं बल्कि और भी कुछ देते हैं। असम में, सिल्क वॉर्म प्यूपी (Pupae) को बहुत अधिक पसंद किया जाता है। एरी (Eri) सिल्क वॉर्म का प्रयोग तब किया जाता है जब उसके कोकून (Cocoon) या कोश को अलग कर दिया जाता है।

यह आमतौर पर खोरिसा (Khorisa) या खोरिशा जो किण्वित बांस की टहनियों से तैयार किया गया व्यंजन है, के साथ परोसा जाता है। एरी पोलु (Polu) एक असमिया व्यंजन है, जो कि काफी अजीब तरह से सिल्क वॉर्म प्यूपी से बनाया गया है, जब वह अपना कोकून अलग कर देती है। यह आमतौर पर असम में उपयोग किए जाने वाले पारंपरिक मसाले के साथ परोसा जाता है, जिसे खोरिसा कहा जाता है। केवल भारत ही एक ऐसा स्थान नहीं है, जहां सिल्क वॉर्म से इस तरह का व्यंजन तैयार किया जाता है। प्यूपा वास्तव में एक कोरियाई स्ट्रीट फ़ूड (Street food) है, जो सिल्क वॉर्म से बना होता है। यह आमतौर पर सड़क विक्रेताओं द्वारा बेचा जाता है। उबले या भाप में पके स्नैक (Snack) को कबाब सीकों के साथ पेपर कप (Paper cups) में परोसा जाता है। डिब्बाबंद बिऑन्देगी (Beondegi) कोरिया में किराने की दुकानों और सुविधा स्टोरों (Stores) में भी मिल सकती है।

संदर्भ:

https://www.youtube.com/watch?v=4KvzY4S85Xw
https://www.youtube.com/watch?v=HlDuBv4sIO8

हमारे प्रायोजक:
Attention to all Females!!!! Here we have the best collection of Suits and Sarees.
Archana designer going to make your Festive Season more wonderful. We are also into Bedsheets and Gowns.


RECENT POST

  • समस्त पक्षियों में सबसे विवेकी पक्षी होता है हम्सा
    विचार 2 दर्शनशास्त्र, गणित व दवा

     05-12-2020 07:24 AM


  • उपयोगी होने के साथ-साथ हानिकारक भी हैं, शैवाल
    शारीरिक

     04-12-2020 11:46 AM


  • कुपोषण एवं विकलांगता के मध्‍य संबंध
    सिद्धान्त 2 व्यक्ति की पहचान

     03-12-2020 01:59 PM


  • क्या भूकंप का पूर्वानुमान लगाया जा सकता है?
    पर्वत, चोटी व पठार

     02-12-2020 10:18 AM


  • मानव सभ्यता के विकास का महत्वपूर्ण काल है, नवपाषाण युग
    ठहरावः 2000 ईसापूर्व से 600 ईसापूर्व तक

     01-12-2020 10:22 AM


  • खट्टे-मीठे विशिष्ट स्वाद के कारण पूरे विश्व भर में लोकप्रिय है, संतरा
    साग-सब्जियाँ

     30-11-2020 09:24 AM


  • सोने-कांच की तस्वीरों में आज भी जीवित है, कुछ रोमन लोगों के चेहरे
    द्रिश्य 3 कला व सौन्दर्य

     29-11-2020 07:21 PM


  • कोरोना महामारी बनाम घरेलू किचन गार्डन
    पेड़, झाड़ियाँ, बेल व लतायें

     28-11-2020 09:06 AM


  • लखनऊ की परिष्कृत और उत्कृष्ट संस्कृति का महत्वपूर्ण हिस्सा है, इत्र निर्माण की कला
    गंध- ख़ुशबू व इत्र

     27-11-2020 08:39 AM


  • भारतीय कला पर हेलेनिस्टिक (Hellenistic) कला का प्रभाव
    द्रिश्य 3 कला व सौन्दर्य

     26-11-2020 09:20 AM






  • © - 2017 All content on this website, such as text, graphics, logos, button icons, software, images and its selection, arrangement, presentation & overall design, is the property of Indoeuropeans India Pvt. Ltd. and protected by international copyright laws.