पर्यटकों के लिए एक महत्वपूर्ण आकर्षण बन गया है, डुगॉन्ग

लखनऊ

 15-11-2020 08:54 PM
मछलियाँ व उभयचर
डुगॉन्ग (Dugong), विशाल ग्रे (Gray) रंग के स्तनधारी हैं, जो अपना पूरा जीवन काल समुद्र में व्यतीत करते हैं। कच्छ की खाड़ी का समुद्रीय राष्ट्रीय उद्यान, अंडमान और निकोबार द्वीप समूह के साथ भारत में एक पृथक प्रजनन भूमि है, और डुगॉन्ग अंडमान क्षेत्र का राज्य पशु भी है। डुगॉन्ग, मैनेट्स (Manatees - अन्य समुद्रीय जीव), के परिवार से सम्बंधित है, जो उन्हीं के समान मांसल या गोलाकार आकृति साझा करते हैं। लेकिन डुगॉन्ग की पूंछ डॉल्फिन (Dolphin) के समान होती है। मैनेट्स, जो कि ताजे पानी के क्षेत्रों का उपयोग करते हैं, के विपरीत डुगॉन्ग पूर्ण रूप से समुद्रीय जीव हैं, जिन्हें आमतौर पर ‘समुद्री गायों’ के रूप में भी जाना जाता है। डुगॉन्ग, अपने भोजन के लिए भारतीय और पश्चिमी प्रशांत महासागरों के छिछले तटीय जल की समुद्री घास पर निर्भर हैं। पर्यटकों के लिए डुगॉन्ग एक महत्वपूर्ण आकर्षण बन गया है। पर्यटक उनके साथ तैर सकते हैं या फिर उन्हें नावों में बैठकर देख सकते हैं। तटीय विकास या औद्योगिक गतिविधियों के कारण जल प्रदूषण बढ़ रहा है, जिसकी वजह से समुद्री घास वाले निवास स्थानों की क्षति हो रही है। यदि डुगॉन्ग को खाने के लिए पर्याप्त समुद्री घास नहीं मिलती है, तो वह सामान्य रूप से प्रजनन नहीं कर सकता। डुगॉन्ग अक्सर मछली पकड़ने के जाल में आकस्मिक उलझाव का भी शिकार हो जाते हैं।
संदर्भ:
https://www.youtube.com/watch?v=9aBNLa--uR4
https://www.worldwildlife.org/species/dugong
https://www.youtube.com/watch?v=dREN5UnPokg


RECENT POST

  • समस्त पक्षियों में सबसे विवेकी पक्षी होता है हम्सा
    विचार 2 दर्शनशास्त्र, गणित व दवा

     05-12-2020 07:24 AM


  • उपयोगी होने के साथ-साथ हानिकारक भी हैं, शैवाल
    शारीरिक

     04-12-2020 11:46 AM


  • कुपोषण एवं विकलांगता के मध्‍य संबंध
    सिद्धान्त 2 व्यक्ति की पहचान

     03-12-2020 01:59 PM


  • क्या भूकंप का पूर्वानुमान लगाया जा सकता है?
    पर्वत, चोटी व पठार

     02-12-2020 10:18 AM


  • मानव सभ्यता के विकास का महत्वपूर्ण काल है, नवपाषाण युग
    ठहरावः 2000 ईसापूर्व से 600 ईसापूर्व तक

     01-12-2020 10:22 AM


  • खट्टे-मीठे विशिष्ट स्वाद के कारण पूरे विश्व भर में लोकप्रिय है, संतरा
    साग-सब्जियाँ

     30-11-2020 09:24 AM


  • सोने-कांच की तस्वीरों में आज भी जीवित है, कुछ रोमन लोगों के चेहरे
    द्रिश्य 3 कला व सौन्दर्य

     29-11-2020 07:21 PM


  • कोरोना महामारी बनाम घरेलू किचन गार्डन
    पेड़, झाड़ियाँ, बेल व लतायें

     28-11-2020 09:06 AM


  • लखनऊ की परिष्कृत और उत्कृष्ट संस्कृति का महत्वपूर्ण हिस्सा है, इत्र निर्माण की कला
    गंध- ख़ुशबू व इत्र

     27-11-2020 08:39 AM


  • भारतीय कला पर हेलेनिस्टिक (Hellenistic) कला का प्रभाव
    द्रिश्य 3 कला व सौन्दर्य

     26-11-2020 09:20 AM






  • © - 2017 All content on this website, such as text, graphics, logos, button icons, software, images and its selection, arrangement, presentation & overall design, is the property of Indoeuropeans India Pvt. Ltd. and protected by international copyright laws.